[psl_page_header page_id=13]

Blog

Onlinexams.in News 20/March/2017

  • योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने


    योगी आदित्यनाथ 19 मार्च 2017 को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने. उन्हें राज्यपाल राम नाईक ने पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई.केशव मौर्य एवं दिनेश शर्मा ने उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली. उत्तर प्रदेश के राजनीतिक इतिहास में पहली बार दो उप-मुख्यमंत्री बने हैं. इसके अतिरिक्त 22 कैबिनट मंत्री, 13 राज्य मंत्री तथा 9 राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) ने भी शपथ ली.
    योगी आदित्यनाथ के बारे में:
    • योगी आदित्यनाथ का जन्म 5 जून 1972 को उत्तराखंड के गढ़वाल में हुआ था.
    • योगी आदित्य नाथ का पहले नाम अजय सिंह विष्ट था लेकिन नाथ संपद्राय में दीक्षित होने और सन्यास लेने के बाद उनका नाम योगी आदित्यनाथ हो गया.
    • उन्होंने गढ़वाल विश्वविद्याल से विज्ञान में स्नातक किया.
    • योगी आदित्यनाथ वर्तमान में गारेखपुर लोकसभा क्षेत्र से बीजेपी का सांसद थे.
    • वे गोरखपुर में स्थित सबसे बड़ी पीठ और मठ गोरखनाथ मंदिर के महंत भी हैं.
    • आदित्यनाथ गोरखनाथ मंदिर के पूर्व महन्त अवैद्यनाथ के उत्तराधिकारी हैं.
    • वे हिन्दू युवा वाहिनी के संस्थापक भी हैं, जो हिन्दू युवाओं का सामाजिक, सांस्कृतिक तथा राष्ट्रवादी समूह है.
    • वे मात्र 26 साल की उम्र में 12वीं लोकसभा के चुनाव वर्ष 1998 में योगी आदित्यनाथ पहली बार गारेखपुर लोकसभा क्षेत्र से बीजेपी के टिकट पर सांसद बने.
    • इसके बाद वे लगातार 13वीं, 14वीं, 15वीं और 16वीं लोकसभा के चुनाव में गोरखुपर से सांसद चुने गए.
    • वे बारहवीं लोक सभा (1998-99) के सबसे युवा सांसद थे.

  • पाकिस्तान में हिंदू विवाह विधेयक को राष्ट्रपति ने मंजूरी प्रदान की


    पाकिस्तान के राष्ट्रपति ममनून हुसैन ने पाकिस्तान में अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय से जुड़े बहुप्रतीक्षित विवाह कानून को मंजूरी प्रदान कर दी है. राष्ट्रपति की स्वीकृति के बाद यह विधेयक अब कानून बन गया.पाकिस्तान में इस विधेयक के लागू होने के बाद वहा रहने वाला अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय विवाह करने के बाद अपने विवाह के सम्बन्ध में कानूनी मान्यता प्राप्त कर सकेगा.विधेयक को राष्ट्रपति की मंजूरी के बाद पीएमओ से जारी बयान के अनुसार पीएम की सलाह पर पाकिस्तान के राष्ट्रपति ने ‘हिंदू विवाह विधेयक 2017’ को मंज़ूरी प्रदान कर दी है.इससे पहले 9 मार्च 2017 को इस विधेयक को संसद से मंजूरी मिली. कानून को पारित होने से पहले लंबी प्रक्रिया से गुजरना पड़ा. पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में दूसरी बार यह विधेयक पारित किया गया. पिछले वर्ष सितंबर में संसद ने इस कानून को पारित कर दिया. बाद में पाकिस्तान की सीनेट ने इसमें कुछ बदलाव किए.

  • चेतेश्वर पुजारा ने भारत की ओर से सबसे लम्बी पारी खेली


    भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने 19 मार्च 2017 को भारत की ओर से 11 घंटे तक सबसे लम्बी पारी खेली. उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेलते हुए तीसरे टेस्ट मैच में 525 गेंदों पर 202 रन बनाए. यह मैच रांची स्थित जेएससीए स्टेडियम में खेला गया.एक ही पारी में 500 से अधिक गेंद खेलने वाले पुजारा पहले भारतीय बल्लेबाज बने. यह उनके करियर की तीसरी टेस्ट सेंचुरी थी.इस रिकॉर्ड से वह राहुल द्रविड़, नवजोत सिंह सिद्धू, सुनील गावसकर, रवि शास्त्री तथा वीवीएस लक्ष्मण जैसे खिलाड़ियों की श्रेणी में शामिल हो गये. वे 450 से अधिक गेंद खेलने वाले छठे भारतीय बल्लेबाज बने.इससे पूर्व यह रिकॉर्ड राहुल द्रविड़ के नाम था जिन्होंने 495 गेंदों में 270 रन बनाये. द्रविड़ ने यह रिकॉर्ड 2004 में पाकिस्तान स्थित रावलपिंडी में खेलते हुए बनाया. यह उनके करियर का सर्वश्रेष्ठ टेस्ट रिकॉर्ड है.

  • आइडिया ने वोडाफोन इंडिया के साथ विलय को मंजूरी प्रदान की


    आइडिया सेल्युलर ने वोडाफोन इंडिया के साथ विलय की घोषणा कर दी है. इस विलय प्रस्ताव पर कंपनी के बोर्ड ने मुहर लगा दी. इसके बाद वोडाफोन इंडिया व इसके पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी वोडाफोन मोबाइल सर्विसेज लिमिटेड और आदित्य बिड़ला ग्रुप के आइडिया सेल्युलर का विलय कर दिया जाएगा.विलय के बाद बनने वाली नई कंपनी भारती एयरटेल को पछाड़कर देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी बन जाएगी. आइडिया सेल्युलर कुमार मंगलम बिड़ला के स्वामित्व वाली देश की तीसरे नंबर की टेलिकॉम कंपनी है.विलय में वोडाफोन और आइडिया के कुल शेयरों का विलय किया जाएगा. इंडस टावर्स में वोडाफोन के 42 प्रतिशत शेयर इस विलय से अलग रहेंगे. आइडिया के नए शेयरों को वोडाफोन में जारी करने के साथ ही विलय लागू हो जाएगा. साथ ही वोडाफोन इंडिया अपनी पैरंट कंपनी से अलग हो.

  • रोजर फेडरर ने स्टेन वावरिंका को हराकर पांचवीं बार इंडियन वेल्स खिताब जीता


    रोजर फेडरर ने 19 मार्च 2017 को स्टेन वावरिंका को 6-4, 7-5 से हराकर रिकार्ड की बराबरी करते हुए पांचवीं बार एटीपी इंडियन वेल्स मास्टर्स टेनिस टूर्नामेंट का खिताब जीता.फेडरर ने वर्ष 2016 में घुटने के आपरेशन के कारण बाहर हुए तथा उन्होंने वापसी करते हुए जनवरी में आस्ट्रेलिया ओपन के तौर पर अपना 18वां ग्रैंडसलैम खिताब जीता था.आल स्विस फाइनल में जीत के साथ फेडरर ने नोवाक जोकोविच के पांच खिताब की बराबरी की. इससे पहले फेडरर ने यहां वर्ष 2004, वर्ष 2005, वर्ष 2006 और वर्ष 2012 में खिताब जीता था.इसके साथ ही स्विट्जरलैंड के 35 वर्षीय टेनिस खिलाड़ी इस टूर्नामेंट को जीतने वाले सबसे अधिक उम्र के खिलाड़ी बन गए हैं. उनसे पहले, जिमी कोनोर्स ने वर्ष 1984 में 31 साल की उम्र में इस टूर्नामेंट पर कब्जा जमाया था.फेडरर ने इसी साल ऑस्ट्रेलियन ओपन जीत अपने ग्रैंड स्लैम खिताबों की संख्या 18 की थी. वे चार बार इस टूर्नामेंट को जीत चुके हैं.ऑस्ट्रेलिया के टेनिस खिलाड़ी निक किर्गियोस ने बीएनपी परिबास इंडियन वेल्स ओपन टेनिस टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल मुकाबले से अपना नाम वापस ले लिया था.क्वार्टर फाइनल में किर्गियोस का सामना स्टार टेनिस खिलाड़ी रोजर फेडरर के साथ होना था, इसके बाद रोजर फेडरर सेमीफाइनल में पहुंच गए थे.