[psl_page_header page_id=13]

Blog

Onlinexams.in News 24/March/2017

  • रेल मंत्री ने नई जल प्रबंधन नीति जारी की


    रेल मंत्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने भारतीय रेलवे में नई जल प्रबंधन नीति जारी की. भारतीय रेलवे ने जल प्रबंधन नीति को अंतिम रूप दिया. नई जल प्रबंधन नीति जल के उपयोग, रिसाइक्‍लिंग, संरक्षण और भूजल के पुनर्भरण के सभी पहलुओं को कवर करती है.नई जल प्रबंधन नीति प्रगतिशील एवं रचनात्‍मक नीति है, जिसके तहत फील्‍ड यूनिटों को जल की रिसाइक्‍लिंग एवं बचत करने के लिए प्रेरित किया जाएगा.
    उद्देश्‍य-
    नई जल प्रबंधन नीति का उद्देश्‍य जल रिसाइक्‍लिंग संयंत्रों, जल हार्वेस्‍टिंग संयंत्रों, सीवेज प्रशोधन संयंत्रों और रेलवे की भूमि पर अपशिष्‍ट प्रशोधन संयंत्रों की स्‍थापना करके जल उपयोग की दक्षता में बेहतरी सुनिश्‍चित करना है नई जल नीति के तहत जल ऑडिट, जल क्षेत्रों की बहाली और जल की रिसाइक्‍लिंग सुनिश्‍चित की जाएगी.नई जल नीति के तहत भारतीय रेलवे ने वृक्षारोपण के लिए भी लक्ष्‍य तय किया.नीति के तहत भारतीय रेलवे ने तीन वर्षों में 5 करोड़ पौधे लगाए जाने का लक्ष्य निर्धारित किया है.वर्तमान वर्ष में 1.25 करोड़ पौधों का लक्ष्‍य रखा गया है.रेलवे पर्यावरण के लिए प्रतिबद्ध है. इसी कारण रेलवे बोर्ड में पर्यावरण निदेशालय भी स्‍थापित किया गया.रेलवे इस लक्ष्य को हासिल करने हेतु यूएनईपी के साथ मिलकर काम कर रही है.ऊर्जा बिल में बचत हेतु 41000 करोड़ रुपये का एक मिशन तय किया गया है.

  • रेलमंत्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने विकल्‍प योजना की घोषणा की


    रेल मंत्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने नई विकल्‍प योजना की घोषणा की. इस योजना के तहत मेल, एक्सप्रेस रेल के टिकट पर यात्री को राजधानी शताब्दी में यात्रा करने की सुविधा प्रदान की जाएगी. इसके लिए अतिरिक्त किराया भी नहीं देना होगा.विकल्‍प योजना के तहत यदि यात्री किसी भी मेल, एक्सप्रेस रेल का वेटिंग टिकट बुक कराता है तो उसकी टिकिट उसी रूट की किसी अन्य अपग्रेड गाड़ी में स्थान खाली होने पर अपग्रेड की जा सकती है.1 अप्रैल से ऑनलाइन टिकटिंग प्रणाली के तहत यह योजना देशभर में लागू कर दी जाएगी. रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने अन्‍य क्षेत्रों में ‘विकल्‍प’ योजना के विस्‍तार का भी उद्घाटन किया.

  • विख्यात तमिल लेखक अशोकमित्रन का निधन


    विख्यात तमिल लेखक अशोकमित्रन का 23 मार्च 2017 को चेन्नई मे निधन हो गया. वे 85 वर्ष के थे. अशोकमित्रन एक प्रसिद्ध उपन्यासकार और निबंधकार थे.
    अशोकमित्रन के बारे में:
    • अशोकमित्रन का जन्म वर्ष 1931 में सिकंदराबाद में हुआ था.
    • वे वर्ष 1952 में चेन्नई स्थानांतरित हो गए थे.
    • वे चेन्नई जाने के बाद स्वतंत्र स्वाधीन तमिल साहित्य के सबसे प्रभावशाली नामो में से एक के रूप में उभरे.
    • उनकी कृति में अब तक 200 से अधिक लघु कथाएँ, आठ उपन्यास तथा 15 अन्य लंबी छोटी कथाये शामिल हैं.
    • उन्होंने तमिल फिल्म प्रोडक्शन हाउस जेमिनी स्टूडियो में भी काम किया.
    • अशोकमित्रन ने अपने कैरियर को शुरुआत पुरस्कार विजेता अनबिन पेरिसू के साथ किया.
    • उन्हें वर्ष 1996 में उनके लघु कथाओं के संग्रह ‘एपवीन सनीगिदर’ के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.
    • उन्होंने साहित्यिक पत्रिका कनाईयाज़ी को भी संपादित किया.
    • तमिल में बेहतरीन लेखकों में से एक ‘अशोकमित्रन’ की लघु कथाएं हिंदी, अंग्रेजी, मलयालम, तेलगू तथा अन्य भाषाओं में अनुवादित की गई हैं.
    • वे संक्षिप्त और सूक्ष्म हास्य के लिए भी जाने जाते थे.

  • कैबिनेट ने शिक्षकों हेतु न्यूनतम योग्यता जरूरी करने के प्रस्ताव को मंजूरी दी


    केंद्रीय कैबिनेट ने 22 मार्च 2017 को शिक्षकों के लिए न्यूनतम योग्यता हासिल करना जरूरी बनाने के लिए शिक्षा का अधिकार (आरटीई) कानून में संशोधन करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी.इसके अंतर्गत अब प्राथमिक पाठशालाओं (आठवीं तक के स्कूल) में नौकरी कर रहे शिक्षकों हेतु न्यूनतम योग्यता हासिल करना अनिवार्य होगा. इससे शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार होगा.शिक्षा का अधिकार कानून में संशोधन से सेवारत अप्रशिक्षित प्राथमिक शिक्षक अपना प्रशिक्षण पूरा कर सकेंगे, जो शिक्षण गुणवत्ता के स्तर बनाए रखने के लिए जरूरी है.शिक्षकों को प्रशिक्षण हासिल करने की अवधि बढ़ाकर 31 मार्च 2019 कर दी गई है. आरटीई कानून के अंतर्गत सभी सेवारत शिक्षकों को वर्ष 2015 तक ही यह प्रशिक्षण दिलाया जाना था, लेकिन सरकार इसे अमल में नहीं ला सकी.

  • दूरसंचार कंपनी एयरटेल ने 4जी में तिकोना नेटवर्क्स के अधिग्रहण की घोषणा की


    भारत की प्रमुख दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनी भारती एयरटेल ने इंटरनेट सेवा प्रदाता तिकोना डिजिटल नेटवर्क्स के साथ अधिग्रहण हेतु समझौता की घोषणा की. समझौते के तहत एयरटेल, तिकोना के 4जी कारोबार, ब्रॉडबैंड वायरलेस एक्सेस (बीडब्ल्यूए) स्पेक्ट्रम और पांच दूरसंचार सर्किलों में 350 साइटों का अधिग्रहण करेगी.
    मुख्य तथ्य-
    इस सौदा को नियामकीय मंजूरी के बाद ही अंतिम रूप दिया जा सकेगा.
    इस सौदे से एयरटेल के डाटा कारोबार में वृद्धि होगी.
    दिसंबर 2016 में समाप्त तिमाही में भारतीय एयरटेल के मोबाइल राजस्व में डाटा सेवाओं की आय की हिस्सेदारी 22.8 फीसदी थी.इस दौरान कंपनी की कुल डाटा ग्राहकों की संख्या 5.49 करोड़ रही, जिनमें से 3जी और 4जी ग्राहकों की संख्या 3.76 करोड़ थी.